उत्तराखंड से जुड़े हैं बुली बाई ऐप के तार, रुद्रपुर की युवती के बाद अब कोटद्वार का मयंक रावत गिरफ्तार

0
312
Listen to this article

कोटद्वार: बुल्ली बाई ऐप पिछले कुछ दिनों से खूब चर्चा में है।मामले में मुंबई से पहुंची पुलिस टीम ने कोटद्वार नगर निगम के अंतर्गत निंबूचौर निवासी मयंक रावत को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि इससे पहले मंगलवार को ऊधमसिंह नगर के रुद्रपुर में रहने वाली एक युवती को इसी मामले में गिरफ्तार किया गया था।

ये भी पढ़ें:CM धामी की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक आज, इन फैसलों पर लग सकती है मुहर

वहीं मयंक दिल्ली में बीएससी आनर्स की पढ़ाई कर रहा है। 2019 में मयंक ने दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लिया था। लॉकडाउन के कारण मयंक पिछले लंबे समय से घर में ही था। जहां वह वर्चुअली माध्यम से बुली बाई ऐप संचालित करने वाले लोगों से जुड़ा था। एसआई जगमोहन रमोला ने बताया की मुम्बई की टीम देहरादून की एसटीएफ टीम के साथ मध्यरात्रि के बाद कोटद्वार पहुंची और मयंक को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया।

  • जानिए क्या है बुली बाई ऐप…

बुली बाई ऐप की पिछले दिनों से खूब चर्चा हो रही है। यह गिटहब नाम के प्लेटफॉर्म पर है। इस पर एक समुदाय विशेष, मुस्लिम महिलाओं की बोली लगाई जा रही थी। इस दौरान महिलाओं का चेहरा दिखाई देता है, जिसे बुली बाई नाम दिया है। इसमें इंटरनेट मीडिया पर काफी एक्टिव रहने वाले महिलाओं को टारगेट किया जाता है। समुदाय विशेष की इन महिलाओं की फोटो को प्राइसटैग के साथ बुली बाई ऐप में लोग एक-दूसरे को साझा करते थे। केंद्र सरकार के कहने पर इस एप को हटा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here