डायबिटीज मरीजों के लिए कितना फायदेमंद खरबूजा..

0
218
Listen to this article

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसमें पैंक्रियाज़ इंसुलिन का उत्पादन करना बंद कर देता है या कम कर देता है। इंसुलिन की कमी होने से ब्लड में शुगर का स्तर तेजी से बढ़ने लगता है। इंसुलिन एक तरह का हार्मोन होता है जो शरीर के भीतर पाचन ग्रंथि से बनता है। इसका काम खाने को एनर्जी में बदलना है। डायबिटीज के मरीजों के ब्लड में शुगर का स्तर हाई होने पर बॉडी में उसके लक्षण दिखना शुरू हो जाते हैं।अधिक प्यास लगना,पेशाब ज्यादा आना,अधिक भूख लगना और वजन कम होना डायबिटीज बढ़ने के लक्षण है।

डायबिटीज के मरीज ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए डाइट का ध्यान रखें। अक्सर शुगर के मरीज कुछ फ्रूट्स का सेवन करने को लेकर कंफ्यूज़ रहते हैं। खरबूज़ा एक ऐसा फल है जो गर्मी में पाया जाता है। खरबूज़ा का सेवन बॉडी को हाइड्रेट रखता है और बॉडी में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है। मीठा खरबूज़ा जिसमें चीनी की मात्रा अधिक होती है। अक्सर डायबिटीज के मरीज खरबूजा खाने से डरते हैं। मीठे खरबूजे का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा रहता है जो ब्लड में शुगर का स्तर बढ़ा सकता है।

आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉक्टर सलीम जैदी के मुताबिक खरबूज सेहत का खज़ाना है। खरबूजा में प्रचूर मात्रा में कैल्शियम, मैंगनीज, मैग्नीशियम, तांबा, पोटेशियम, लोहा, सेलेनियम, जस्ता और फास्फोरस जैसे खनिज पाए जाते हैं। इसमें विटामिन का भंडार है। विटामिन बी,विटामिन के,विटामिन डी, विटामिन ई और फोलेट का भी खरबूजा बेहतरीन स्रोत है। ये सभी पोषक तत्व बॉडी को हेल्दी रखते हैं। अब सवाल ये उठता है कि क्या डायबिटीज में खरबूजा खाना ठीक है?

आइए आयुर्वेदिक एक्सपर्ट से जानते हैं…

खरबूजा एक ऐसा फल है जो फाइबर से भरपूर होता है जो पाचन को दुरुस्त करता है। इस फल का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 65 होता है। विटामिन सी से भरपूर खरबूजे का ग्लाइसेमिक इंडेक्स मध्यम श्रेणी का होता है। हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स की तुलना में ये मध्यम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड धीरे-धीरे अवशोषित होते हैं। यह ब्लड शुगर को धीरे-धीरे बढ़ाता है। इसमें मौजूद फाइबर और इसका कम ग्लाइसेमिक लोड ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है। लो फैट फाइबर से भरपूर खरबूजा डायबिटीज के मरीजों के लिए आइडियल फूड है। एक्सपर्ट के मुताबिक डायबिटीज के मरीजों के लिए खरबूज़े का सेवन पूरी तरह सेफ है। फाईबर और पानी से भरपूर खरबूजा डायबिटीज फ्रेंडली है।

अगर आपकी शुगर हाई है और आप मीठा खरबूजा खाना चाहते हैं तो आप खरबूजे के साथ प्रोटीन डाइट को भी शामिल कर लें। प्रोटीन डाइट में आप पनीर और बादाम का सेवन कर सकते हैं। प्रोटीन डाइट शुगर का अब्जॉर्शन डिले करती है। विटामिन सी से भरपूर खरबूज़ा डायबिटीज के मरीजों की इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग करता है और ब्लड शुगर को तेजी से बढ़ने नहीं देता। डायबिटीज के मरीज खरबूजे का सेवन कर सकते हैं।

डायबिटीज के मरीज खरबूजे का सेवन सुबह के नाश्ते में दोपहर के खाने में या शाम में कर सकते हैं। डायबिटीज के मरीजों का अगर पाचन खराब रहता है तो वो रात में 7 बजे के बाद खरबूजे का सेवन नहीं करें। खरबूजा एसिडिक होता है जो एसिडिटी को बढ़ा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here