उत्तराखंड के लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ गेम में किया धमाल, जीता गोल्ड

0
145
Listen to this article

उत्तराखंड के अल्मोड़ा के रहने वाले लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ खेलों में सोने पर निशाना साधा है। पुरुष सिंगल्स में लक्ष्य ने मलेशिया के खिलाड़ी को हराया है।बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने कमाल कर दिया है। लक्ष्य सेन ने कॉमन वेल्थ खेलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत की झोली में एक और गोल्ड मेडल डाल दिया। आज बैडमिंटन ने भारत को दूसरा गोल्ड मिला है। इससे पहले पीवी सिंधू ने भी गोल्ड पर निशाना साधा।

लक्ष्य सेन ने अपने फाइनल में मलेशिया के एंग जे योंग को 19-21, 21-9, 21-16 से हरा दिया। इस स्वर्ण के साथ ही लक्ष्य राष्ट्रमंडल खेलों के पुरुष एकल में पदक जीतने वाले भारत के 10वें खिलाड़ी और स्वर्ण जीतने वाले चौथे एथलीट बन गए।

अल्मोड़ा के रहने वाले लक्ष्य सेन ने पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था जबकि इसी साल ऑल इंग्लैंड ओपन-2022 में वह उप-विजेता रहे। लक्ष्य ने फाइनल  मुकाबले के शुरुआती गेम में 2-0 से बढ़त बनाई जिसे 5-3 और फिर 6-4 पहुंचाया। बाद में योंग ने वापसी करते हुए 7-7 से बराबरी की और फिर देखते ही देखते 11-9 की बढ़त बना ली। लक्ष्य ने बाद में स्कोर 18-18 से बराबर किया लेकिन योंग ने पहला गेम 21-19 से अपने नाम किया।

दूसरे गेम में मलेशियाई खिलाड़ी ने 4-3 से बढ़त बनाई जिसे 6-4 किया। लक्ष्य ने वापसी करते हुए स्कोर 6-6 से बराबर किया और फिर 11-9 की बढ़त बना ली जिसे उन्होंने देखते ही देखते 16-9 कर दिया। बाद में यह गेम लक्ष्य ने 21-9 से जीता। तीसरे और निर्णायक गेम में लक्ष्य ने 8-4 और फिर 9-6 से बढ़त बनाते हुए स्कोर 11-7 किया। इसके बाद बढ़त 14-8 कर दी। योंग ने वापसी करते हुए स्कोर 12-17 किया लेकिन लक्ष्य ने इस गेम को 21-16 से जीतते हुए गोल्ड भी देश के खाते में जोड़ दिया।

योंग ने मौजूदा खेलों में मिक्स्ड टीम का गोल्ड जीता है जबकि वह पिछले साल सुदीरमन कप में ब्रॉन्ज जीतने में कामयाब हुए थे। इसी के साथ भारत के खाते में अब 20 गोल्ड मेडल समेत कुल 57 पदक हो गए हैं। भारत ने 15 सिल्वर और 22 ब्रॉन्ज भी जीते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here